Testimonials

People’s Representatives

“राजसमन्द महिला मंच व् उसकी गतिविधियों के बारे में मैं पिछले लगभव 15 वर्षो से जानती हूँ | इन सालों में राजसमन्द महिला मंच ने महिला सशक्तिकरण के क्षेत्र में अच्छा काम किया | राजसमन्द जिले के गाँव ,ढाणी ,तहसील व् शहर की महिलाओं को अपने हक़ की लड़ाई लड़ने हेतु संगठित किया | महिलाओं को प्रेरित किया की वे न्याय ,समता ,गौरव व् अपने अधिकारों की लड़ाई स्वयं लाडे | रूढ़ीवादी रीतीरिवाज व् सामाजिक प्रथाओं में सुधार लाने ,महिलाओं को क़ानूनी सहायता उपलब्ध करवाने एवं महिलाओं की आर्थिक उन्नती के लिये अच्छा काम किया | राजसमन्द महिला मंच के अथक प्रयास के परिणाम स्वरूप 2003 में राजसमन्द जन विकास संस्थान की स्थापना हुई | मेरी और से राजसमन्द महिला मंच को लम्बे समय से नेतृत्व एवं अपनी सेवाऐ प्रदान कर रही श्रीमती शकुन्तला पामेचा के प्रति आभार व् हार्दिक शुभकामनाऐ |”
Dr. Lad Kumari Jain
Professor (Retd.)
Department of Political Science
Ex-Director, Center for Women’s Studies
University of Rajasthan, Jaipur
Former Chairperson,
Raj. State Commission for Women
Ex-President, RUWA

राजसमन्द जन विकास संस्थान कहे या राजसमन्द महिला मंच ,दोनों ही समाज सेवा के क्षेत्र में समय के दस्तावेज पर एक सशक्त हस्ताक्षर है | श्रीमती शकुन्तला जी पामेचा के कुशल नेतृत्व में यह संस्थायें पिछले काफी समय से  महिलाओं के उन्नमन , उत्थान  एवं कल्याण के लिए कार्य कर रही है | महिलाओं के साथ होने वाले अन्याय, अत्याचार एवं शोषण के विरुद्ध यह संस्थायें न केवल आवाज उठाती रही है | अपितु उनके निराकरण के सार्थक प्रयास भी करती रही है | महिलाओं की समस्याओं को शासन प्रसाशन एवं समुचित मंच तक ले जाना तथा समय – समय पर सबा,समारोह एवं शिविर आयोजित करना इन संस्थाओं की नियमित गतिविधियाँ है | संस्थान के उज्जवल भविष्य की मंगलकामना |
Dr. Basanti Lal Babel

महिला मंच एवं जन विकास संस्थान राजसमन्द जिले के गाँव ,ढाणी ,तहसील व् शहर  और  विभाग की महिलाओं को संगठित करने ,सशक्त करने एवं समाज में महिलाओं के प्रति न्याय ,समता ,गौरव एवं भागीदारी सुनिर्श्चित करने के लिए वर्ष 1998 से निरंतर कार्यरत है | उक्त संगठन जाति ,वर्ग ,लिंग और समुदाय पर आधारित भेदभाव तथा महिला हिंसा के विरोध में प्रत्येक स्तर पर आवाज उठाता है साथ ही महिलाओं का क्षमतावर्धन ,प्रशिक्षण एवं उनमें जागृति के द्वारा  उन्हें सामाजिक, आर्थिक, राजनैतिक एवं   स्वास्थ्य स्तर पर द्रढ़ता प्रदान करने में सलग्न है |

साथ ही जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की गतिविधियों में सदैव सकारात्मक एवं सहयोगी रहकर महिलाओं को निशुल्क विधिक सहायता ,विधिक जागरूकता एवं सुलभ न्याय प्रदान करने में अपना योगदान प्रदान कर रहा है |

मैं नरेंद्र कुमार ,सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण ,राजसमन्द जन विकास संस्थान की संस्थान निदेशक श्रीमती शकुन्तला पामेचा एवं महिला मंच अध्यक्ष श्रीमती शारदा खटिक एवं इनकी समस्त टीम के कार्यों के प्रति साधुवाद एवं उज्जवल भविष्य की कामना करता हूँ |

Narendra Kumar
Secretary District Legal Services Authority, Rajsamand

Rajsamand Jan Vikas Sansthan has been doing excellent, inspiring work for the empowerment of women for the last several years. I had the opportunity to organize a free medical camp with women activists who have served this institution for many years. Director Mrs. Shakuntala Pamecha, along with herself and fellow workers, is making more efforts for prevention of child marriage, female health, school enrollment of hundred percent girls in many tehsils of Rajsamand district. Public hearing programs of RJVS make every effort to remove the problems of women by making a list of them. For the prevention of violence against women, counseling and support is being provides by RJVS to bring relief from violence and happiness in the life of poor,ditressed, deprived women.

Doctor Vijaykumar Khilani
Retired District Health Officer, Rajsamand

Volunteers & Interns

My time at RJVS was one of the most vivacious experiences of my lifetime. Coming from the background of IT Engineering, the errands at the NGO were new and a dynamic experience for me. From starting the day, with analyzing the scope of social media outreach to understanding the various affairs of the society was tremendous. It actually made me experience the diverse life of the individuals across the place. Helping me to gain a broader perspective towards the intricacies of the society. Rajsamand Jan Vikas Sansthan I believe, is working toward a very noble cause and would succeed in every aspect.

Sheetal
Intern